Join Us on Telegram

IAS और IPS में अंतर? कौन ज्यादा Power full है, किसकी कितनी सैलरी- जानिए यहाँ से पूरी जानकरी

Difference Between IAS And IPS- इस पोस्ट के जरिये हम आपको यह जानकारी देंगे की IAS और IPS में क्या अंतर् होता है, अगर आप भी UPSC को क्रैक करके IAS Officer या IPS Officer बनना चाहते है तो ये पोस्ट आपके लिए बहुत इम्पोर्टेन्ट है, चलिए जानते है की IAS Officer Kya Hota Hai, IPS Officer Kya Hota Hai, आईएएस और आईपीएस बनने के लिए क्या करना होगा I

IAS Offier Kaise Bane- यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन(UPSC) IAS,IPS और IFS जैसी बड़ी-बड़ी पोस्ट के लिए exam conduct कराती है। यह परीक्षा बेहद ही मुश्किल होती है। यह इंडिया का toughest exam है। लेकिन फिर भी हर साल लाखों बच्चे इसके लिए ऑनलाइन अप्लाई करते हैं और परीक्षा देने जाते हैं। लेकिन इनमें से बहुत कम ही आईएएस IAS,IPS और IFS का exam clear करकर सफल हो पाते हैं।

बहुत से लोग आईएएस और आईपीएस को एक जैसा ही मानते हैं। लेकिन इन दोनों में बहुत अंतर होता है यह अंतर अमूमन किसी को पता नहीं होता लेकिन आज हम आपको इस रिपोर्ट में बताने वाले हैं कि IAS और IPS के बीच क्या अंतर होता है, यह दोनों किस पोस्ट के लिए हैं इनमें से कौन सी पोस्ट ज्यादा बड़ी है और इनमें सैलरी कितनी दी जाती है? यह सब जानने के लिए आप हमारे इस रिपोर्ट को अंत तक जरूर देखिएगा।

Difference Between IAS And IPS

IAS Kya Hota Hai- आईएएस(IAS) क्या होता है ?

आईएएस का फुल फॉर्म(IAS Full Form)इंडियन एडमिनिस्ट्रेशन सर्विस(india administration service)है। आईएएस का एग्जाम यूपीएससी के द्वारा कंडक्ट कराया जाता है। यूपीएससी की परीक्षा में जिसभी विद्यार्थी के ज्यादा अंक होते हैं। उसको आईएएस की पोस्ट दी जाती है। आईएएस पोस्ट के तहत आफ ब्यूरोक्रेसी में एंटर कर सकते हैं। आईएएस में सिलेक्ट होने वालों को अलग अलग मंत्रालय या जिले का डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट(DM) बना दिया जाता है़। जिसको जिले का प्रमुख भी कहते हैं।

IPS Kaise Bante Hai- आईपीएस(IPS) क्या होता है ?

अगर हम बात करें आईपीएल की, तो आईपीएस की फुल फॉर्म इंडियन पुलिस सर्विस(Indian police service) होती है। इसको भी यूपीएससी के द्वारा ही आयोजित किया जाता है। आईपीएस बनने पर यूनिट के बड़े-बड़े पुलिस अफसरों में शामिल हो जाते हैं। अगर बात की जाए, इसमें मिलने वाले पदों की तो इसमें आप ट्रेनी आईपीएस, डीजीपी, इंटेलिजेंस ब्यूरो, सीबीआई चीफ जैसे बड़े-बड़े लेवल तक पहुंच सकते हैं।

बता दे यूपीएससी परीक्षा 3 पदों में की जाती है पहले में UPSC Prelims exam देना पड़ता है। जो कि जुलाई के महीने में होता है। तो वहीं जो भी लोग Prelims को क्लियर कर देते हैं। वह इसके 6 महीने बाद UPSC Mains के एग्जाम में बैठते हैं। और जो लोग Mains भी क्लियर कर देते हैं। उनको एक इंटरव्यू देना होता है। उसके बाद ही उनका चयन किया जाता है।

IAS और IPS की तुलना, क्या होता है इन दोनों में अंतर

अगर हम IAS और IPS में अंतर की बात करें, तो इन दोनों में सबसे बड़ा अंतर यह है, कि आईएएस हमेशा आपको फॉर्मल ड्रेस में होते हैं, जो भी आईएएस के लिए चुने जाते हैं। उनका कोई अलग से dress code नहीं होता। तो वहीं अगर बात की जाए एक आईपीएस अधिकारी की, तो उनको हर समय पुलिस की वर्दी में होना compulsory है। आईपीएस का ड्रेस कोड होता है।
दूसरा अंतर यह है, कि आईएएस अपने साथ एक या दो बड़े-बड़े बॉडीगार्ड रखता है। लेकिन एक आईपीएस के साथ बॉडीगार्ड नहीं होता बल्कि पूरी की पूरी पुलिस की सेना चलती है। बात की जाए IAS और IPS को मिलने वाले अवार्ड की तो, आईएएस को मेडल देकर नवाजा जाता है। तो वहीं एक आईपीएस को “स्वॉर्ड ऑफ़ ऑनर अवार्ड” से सम्मानित किया जाता है।

IAS VS IPS Salary- IAS और IPS की सैलरी की तुलना

एक आईपीएस अधिकारी को पुलिस विभाग में काम करना होता है। उसका डिपार्टमेंट पूरी तरह से निश्चित होता है। जबकि एक आईएएस अफसर पर ढेर सारी responsibility होती हैं। उनको कितने ही सरकारी विभाग और मंत्रालय का कार्यभार संभालना पड़ता है। आईएएस और आईपीएस के काम और कार्यभार को देखते हुए, इनकी सैलरी निर्धारित की गई है।

आईएएस और आईपीएस की सैलरी में थोड़ा सा अंतर है।7th pay commission के बाद IAS officer की सैलरी 56100 रुपए से 2.5 लाख रुपए प्रति महीने होती है। इसके साथ साथ इनको बहुत सारे भत्ते भी दिए जाते हैं। तो वहीं दूसरी और अगर बात की जाए एक आईपीएस ऑफिसर की सैलरी की, तो IPS officer की सैलरी भी 7th pay commission के बाद ₹56100 से ₹225000 होती हैं। इसके अलावा आईपीएस ऑफिसर को भी बहुत सारे भत्ते और सेवाएं दी जाती हैं।

IAS और IPS की ड्यूटी में क्या-क्या अंतर होता है ?

अगर आईएएस और आईपीएस की ड्यूटी की तुलना की जाए, तो एक आईएएस के कंधे पर ढेर सारी जिम्मेदारी होती है। क्योंकि उनको अलग-अलग Department में काम करना होता है।जैसे कि लोक प्रशासन, नीति निर्माण और भी बहुत सारी जिम्मेदारी उनके कंधे पर हैं। तो वही बात की जाए एक IPS Offier की ड्यूटी की, तो इन के कंधों पर कानून में मैनेजमेंट बनाए रखने और अपने जिले में अपराधों को रोकने के लिए व्यवस्था करने की बड़ी जिम्मेदारी होती है।

Who is More Powerful IAS Officer or IPS Officer- IAS और IPS में से कौन ज्यादा पावरफुल होता है ?

IAS और IPS की शक्तियों की तुलना करने से पहले, हम आपको एक बात बता दें, 1 जिले में सिर्फ एक आईएएस ही हो सकता है। तो वहीं दूसरी ओर 1 जिले में एक से ज्यादा आईपीएस भी हो सकते हैं। यह जगह की स्थिति के ऊपर निर्भर करता है। कि वहां पर दंगे ज्यादा है या कम। आईएएस बड़ी पोस्ट होती है, जिसके कारण इनको जिला अधिकारी बनाया जाता है। तो वही आईपीएस इसके थोड़ी नीचे की पोस्ट होती है।
जिसको जिले का सुप्रिडेंट ऑफ पुलिस(SP) बनाया जाता है।

IAS और IPS दोनों एक ही किस्म का एग्जाम यानी कि UPSC क्लियर करके आते हैं। सिर्फ रैंक के ऊपर नीचे होने के कारण भी इनके पद बदल जाते हैं। अगर किसी व्यक्ति की यू पी एस सी के एग्जाम में रैंक अच्छी है। तो वह अपनी मर्जी से IAS और IPS में से किसी एक का पद चुन सकता है। लेकिन अगर वही रैंक थोड़ी कम है।तो फिर उसको आईपीएस का पद ही दिया जाता है। वह आईएएस नहीं बन सकता।

आईएएस कितने ही अलग-अलग Department का हेड होता है। इसीलिए आईएएस अधिकारी थोड़े ज्यादा शक्तिशाली होते हैं। तो वही आईपीएस अधिकारी भी शक्तिशाली होते हैं, लेकिन अगर तुलना आईएएस से की जाए तो वे इतनी शक्तिशाली नहीं होती।

Leave a Comment

भारतीय वायु सेना में बंपर भर्ती- 40000 रुपए मिलेगा वेतन, ऐसे करें आवेदन Munawar Faruqui बने लॉक अप विनर, 20 लाख, इटली का ट्रिप Kevin Samuels Suddenly dead, Shocking News, check here reason IARI Assistant Recruitment 2022, 50000 मिलेगा वेतन Singer Chris Brown’s Mom Transformation Photos